Dating Tips

जिन्दगी का महकता गुलदस्ता

213 Posts

734 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 2940 postid : 362

ईद के मौके पर एक खास हास्य कविता : काश मैं तेरा बकरा होता

Posted On: 31 Aug, 2011 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

खास लड़की पटाने के लिए

आज ईद है और हमारे घर सुबह-सुबह आए हमारे दोस्त मोहम्मद आमिर. मोहम्मद आमिर हमारे दोस्त है और बेहद दिलफेंक किस्म के इंसान है. आते ही मियां ने सेवईयां दी और सेवईयां के साथ अपनी एक कविता सुनाई. दरअसल कविता थी किसी और की पर उन्हें अपने हालात पर कविता फिट बैठी सो सुना दी.


आमिर मियां को उनके घर के सामने रहने वाली शबनम से इश्क हो गया है पर क्या करे शबनम जी उन्हें घास ही नहीं डालती. खैर आमिर मियां मुझसे यह पूछना चाहते थे कि क्या वह ईद की मुबारकबाद देने जब शबनम के घर जाएं तो यह कविता उसे सुनाए या ना. तो चलिए पहले कविता पढ़ लेते हैं फिर सोचेंगे कि क्या करना है.


काश इस ईद पर मैं तेरा बकरा होता – हास्य कविता

काश इस ईद पर मैं तेरा बकरा होता,
और तुने मुझे प्यार से पकड़ा होता,
तुं अपनें हाथों से मुझे चारा खिलाती,
और तुं मुझे ‘मैं – मैं’ करके बुलाती,


हर शाम को गली – गली साथ घुमाती,
सारा दिन मैं तेरे साथ रहता,
रात को सर्दी से अकड़ा होता;
काश इस ईद पर मैं तेरा बकरा होता!


फिर ईद पर मैं हलाल हो जाता,
तेरी ही ख़ातिर मैं ‘कट – मर’ जाता,
तेरे होठों, तेरे मुख से होते हुये,
तेरे सुंदर शरीर में ‘रच – बस’ जाता,
तेरी मोहब्बत में कुछ ऐसा जकड़ा होता;
काश इस ईद पर मैं तेरा बकरा होता!


कविता सुनकर तो मैंने कह दिया कि भाई एकदम झकास किस्म की कविता है. एकबार लड़की को सुना दो वहीं दिल देकर बेहोश ना हो जाए तो कहना. वह तो गए यह कविता शबनम जी को सुनाने. आपकी क्या राय है, क्या आप इस कविता को किसी चांद जैसे मुखड़े वाली को सुनाना पसंद करेंगे.



Tags:                                       

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (11 votes, average: 4.64 out of 5)
Loading ... Loading ...

2 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Avi singh के द्वारा
December 10, 2013

Dear,sir mai ek ladki jiska naam lovely hai ko bhut love krta honu,main usse last 3 years se love krta honu wo meri class mate and fnd hai.maine unko perpose bhi kar diya but wo kah re hai ki wo mujhe sirf apna fnd maanti hai.wo kahti hai ki jiss bande se merrige karegi ussi se love karegi,wo mere ghar ke close main rahti hai,iss liye hmari merrige ni ho skti and agar merrige ni to love bhi na…plz sir help me…aap mujhe bataiye ki main ab kya karu??? Plz sir help me

Avi singh के द्वारा
December 10, 2013

Dear,sir mai ek ladki jiska naam lovely hai ko bhut love krta honu,main usse last 3 years se love krta honu wo meri class mate and fnd hai.maine unko perpose bhi kar diya but wo kah re hai ki wo mujhe sirf apna fnd maanti hai.wo kahti hai ki jiss bande se merrige karegi ussi se love karegi,wo mere ghar ke close main rahti hai,iss liye hmari merrige ni ho skti and agar merrige ni to love bhi na…plz sir help me…aap mujhe bataiye ki main ab kya karu???


topic of the week



latest from jagran