Dating Tips

जिन्दगी का महकता गुलदस्ता

218 Posts

736 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 2940 postid : 99

नया साल और प्यार का सफर

Posted On: 3 Jan, 2011 मस्ती मालगाड़ी में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

प्यार शंखनाद मंदिर का, प्यार ही मंदिर की अज़ान है

प्यार बाइबिल, प्यार है गीता, प्यार ग्रंथ-साहिब, कुरान है.


welcome 20112010 को अलविदा कहने आज सूरज अपने सफर पर निकल पड़ा है और 2011 को सलामी देने के लिए कल फिर सूरज आएगा. कईयों के लिए यह साल बेहतरीन रहा होगा जैसे कि मेरे लिए तो कुछेक को साल ने निराश भी किया होगा. वैसे नए साल पर आप सब में से कईयों ने सिंगल से मिंगल होने की सोची होगी. मेरे अब तक के ब्लॉग्स तो आपके लिए फायदेमंद रहे या नहीं वह तो मालूम नहीं पर मैं कोशिश करुंगा कि आने वाले साल में अपनी लेखन शैली में कुछ बदलाव कर आपके लिए कुछ मनोरंजक लिखूं.


वैसे आज कई प्रेमी जोड़े आने वाले नए साल का जश्न मनाने एक दूजे के साथ होंगे. वैसे आप इस बार क्या कर रहे हैं? नए साल को सेलिब्रेट करने के लिए आप चाहें तो अपने लवर को एक रोमांटिक सी डेट पर ले जा सकते हैं या उनको कोई ऐसा गिफ्ट दें जो उन्हें पूरे साल आपकी याद दिलाता रहे.


इसी के साथ आज मैं एक बात और साफ कर दूं कि मेरे लव टिप्स न सिर्फ लड़कों के लिए होते हैं बल्कि लड़कियों और शादीशुदा जोड़ों के लिए भी.


लेकिन आज मैं आपको प्यार जानने का सबसे बेहतरीन फार्मूला दे रहा हूं जो  सबसे कारगर है. मान लीजिए आपका साथी आपसे दूर दूर रह रहा है और आपको डर है कि कहीं वह आपसे दूर न हो जाए तो डरिए मत बस सब कुछ वक्त के भरोसे छोड़ दीजिए. अगर वह आपका होगा तो जरुर वापस लौट कर आएगा. और अगर आपका नहीं होगा तो उसे भूलने में ही समझदारी है. याद रखिए दुनिया में वही अकेली लड़की या लड़का नहीं था. प्रयास करते रहिए आपकी इश्क की नैया जरुर पार लगेगी.



Tags:                                                   

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (11 votes, average: 3.73 out of 5)
Loading ... Loading ...

7 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Chung Flor के द्वारा
February 1, 2017

Hi, I think your site might be having browser compatibility issues. When I look at your website in Safari, it looks fine but when opening in Internet Explorer, it has some overlapping. I just wanted to give you a quick heads up! Other then that, fantastic blog!

SADDAM के द्वारा
January 9, 2014

PYAR EK AHSAS H JO SIRF SIRF AHSAS KIYA JA SAKTA H ,PYAR EK WO NAGMA H JISE KOE BHI ALLAD GUNGUNANE KE BAD PARWANA NAJAR AANE LAGTA H LEKIN ES BADALTE WAQT NE PYAR KI PARIWASA KO BADAL DIYA H AAJ PYAR SIRF JARURAT YA JATANE KI ZEEJ BAN GAYA H BY MY FREAND

SADDAM के द्वारा
January 9, 2014

mohabbat rab ka dusra nam hh

SADDAM के द्वारा
January 9, 2014

वकल्ुुुुसकरिपिरक

Sandeep के द्वारा
November 28, 2011

ogychI

abodhbaalak के द्वारा
January 3, 2011

लव गुरु को अबोध का प्रणाम आशा है की इस वर्ष भी आपके ज्ञान से मंच ….. नव वर्ष मंगलमय हो http://abodhbaalak.jagranjunction.com/

    राहुल के द्वारा
    January 4, 2011

    अबोध जी, आपके प्रोत्साहत्मक कमेंट के लिए धन्य्वाद, आशा है इस साल भी हमारा ब्लॉगिंग की राह में सफर यूही चलता और तेज चलता रहे. +


topic of the week



latest from jagran